X

डोसा रेसिपी Dosa recipe in Hindi


जैसे ही हम डोसे का नाम सुनते है, हमारे मुँह में पानी आ जाता है| डोसा होता ही इतना स्वादिष्ट है | जब कभी हम बाहर घूमने जाते है तो किसी ढाबे या रेस्टोरेंट में हम डोसा खाना ही प्रेफर करते है| इसका स्वाद इतना लज़ीज़ होता है कि बहार जाए और डोसा न खाए यह हो ही नहीं सकता| हम इतना स्वादिष्ट और लाजवाब डोसा घर पर भी तैयार कर सकते है|

डोसा एक बहुत ही लोकप्रिय एवं मशहूर दक्षिण भारतीय व्यंजन है| ऐसा माना जाता हैं कि डोसे की उत्पत्ति कर्नाटक में उडुपी नामक जगह पर हुई थी| डोसा अपने स्वाद के लिए भारत के लगभग सभी राज्यों में मशहूर है| दक्षिण भारतीय व्यंजन होने के बावजूद भी डोसा भारत के विभिन्न राज्यों में बड़े चाव से खाया जाता है| यह बनाने में जितना सरल होता है, खाने में उससे भी ज्यादा स्वादिष्ट होता है|

माना जाता है कि डोसा हल्का भोजन होने की वजह से शरीर में जल्दी पच जाता है| डोसा नाश्ता, मध्याहन भोजन, और रात्रि भोजन के रूप में भी ग्रहण कर सकते है| यह भारत के अलावा अन्य देशों में भी लोकप्रिय है|

अगर न्यूट्रिशनल वैल्यू की बात करे तो डोसा कार्बोहाईड्रेट, प्रोटीन, विटामिन बी और विटामिन सी से भरपूर होता है| डोसा मुख्यतः दाल और चावल का बनता है| जिसमे चावल में न सिर्फ फाइबर मौजूद होता है, बल्कि और भी बहुत सारे मुख्य पोषक तत्व पाए जाते है| जैसे विटामिन, कैल्शियम, आयरन, थाईमीन और मिनरल्स मौजूद होते है| वही दाल भी बहुत ही पौष्टिक भोज्य पदार्थों में से एक है| इसमें प्रोटीन, कार्बोहाईड्रेट, कैल्सियम और विटामिन्स भरपूर मात्रा में पाए जाते है| दाल तासीर में ठंडी होती है|

सुनहरा रंग, क्रिस्पी, मसाला आलू की फिलिंग से भरपूर डोसा लगभग 133 कैलोरी प्रदान करता है| जो उसमे मौजूद विभिन्न पोषक तत्वों से प्राप्त होती है|

पोषक तत्व प्राप्त कैलोरी
कार्बोहाईड्रेट
75
प्रोटीन
11
वसा
47
कुल
133

डोसा जितना पतला और कुरकुरा होता है उतना ही अच्छा माना जाता है| इसे बनाने के लिए पहले से भिगोए हुए दाल और चावल का प्रयोग करते है|

वैसे तो डोसे कई प्रकार के होते है| लेकिन नए-नए रूप में सजे डोसे अपने अलग अलग स्वाद से अपनी एक ख़ास पहचान बनाते है| जैसे- प्लेन डोसा, मसाला डोसा, रवा डोसा, अनियन डोसा, कैप्सिकम डोसा, पनीर डोसा आदि|

अच्छा डोसा बनाने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है कि उसका बेटर अच्छे से तैयार किया गया हो| बेटर में कोई भी कमी रह जाती है तो हमारा डोसा बिल्कुल भी कुरकुरा और स्वादिष्ट नहीं बनेगा| डोसे का अच्छा बेटर तैयार करने में फर्मेंटेशन का होना बहुत जरूरी होता है| यदि फर्मेंटेशन ठीक से नहीं हुआ है तो डोसे का अच्छा बनना मुश्किल हो जाएगा| उड़द दाल और चावल को कुछ घंटे भिगोने और मिक्सर में पीसने के बाद जो पेस्ट बनेगा उसे रखने पर उसमे फर्मेंटेशन होगा|

फर्मेंटेशन भी टेम्परेचर पर निर्भर करता है| जितना ज्यादा टेम्परेचर होगा उतनी जल्दी फर्मेंटेशन होगा| फर्मेंटेशन में टेम्परेचर अधिक होने पर 5-6 घंटे और कम होने पर लगभग 12 घंटे लगेंगे| इसलिए टेम्परेचर का ध्यान रखे|

2-3 लोगों के लिए डोसा बनाने के लिए

डोसा बेटर तैयार करने में समय      12-14 घंटे

डोसा पकाने में समय                       20-25 मिनट

डोसा बनाने के लिए सामग्री

चावल                  2 कप

उड़द दाल            1/2 कप

चना दाल              1/3 कप

मेथी दाना             1 चम्मच

पोहा                      1/2 कप (ऑप्शनल)

तेल और पानी      आवश्यकतानुसार

नमक                    स्वादानुसार

डोसा में भरावन के लिए सामग्री

सरसों                      1 चम्मच

तेल                         2 चम्मच

हल्दी                      1/2 चम्मच

कड़ी पत्ता                12 से 15 पत्तियाँ

हरी मिर्च                  2 से 3

अदरक                    1/2 इंच का टुकड़ा

प्याज                        1 कटा हुआ

उबले आलू                4-5

लाल मिर्च पाउडर      1 चम्मच

हरा धनिया                1 चम्मच (बारीक कटा हुआ)

नमक                        स्वादानुसार

डोसा बेटर तैयार करने की विधि

1) सबसे पहले एक बर्तन में चावल, उड़द दाल, चना दाल और मेथी दाना डालकर अच्छी तरह से धो ले| फिर साफ़ पानी डालकर 4-5 घंटे के लिए भिगोकर रख दे| चावल और दाल को अलग-अलग भिगो कर रख सकते है|

चावल से डोसा बहुत कुरकुरा बनता है| चना दाल डालने से डोसा सुनहरा बनता है और चिपकता नहीं है| मेथीदाना डालने से डोसा बेटर में होने वाला फर्मेंटेशन और बढ़ जाता है| पोहे के प्रयोग से डोसे का स्वाद और बढ़ जाता है| लेकिन आप डोसा बिना पोहा डाले भी बना सकते है|

2) 4-5 घंटे भीगने के बाद इसे ग्राइंडर में डालकर पीस ले| ध्यान रखे जिस पानी में इसे भिगोया था उसे फेंके नहीं, बल्कि उसका प्रयोग पीसते वक़्त बेटर को पतला करने के लिए करे| इस पानी के प्रयोग से फर्मेंटेशन तेजी से होता है|

भिगोए हुए दाल और चावल को इस कंसिस्टेंसी में पीसे की उसका बेटर न तो ज्यादा गाढ़ा हो और न ज्यादा पतला हो|

3) पीसते समय यह जरूर ध्यान रखे कि ग्राइंडर ज्यादा गर्म न हो| इससे बेटर ख़राब हो सकता है| इसलिए थोड़ा रुक-रुक कर पीसे|

4) बेटर को एक बर्तन में निकाल ले और फर्मेंटेशन अच्छे से हो इसके लिए पाँच मिनट तक बेटर को हाथ से फेंटे| फेंटने के बाद बेटर फूला-फूला दिखाई देगा| क्योंकि हाथ से फेंटने से बेटर में अच्छी तरह से हवा भर जाती है जो बेटर के लिए अच्छी होती है|

5) अब बेटर वाले बर्तन को 6-7 घंटे के लिए ढक कर रख दे|

नोट- अगर आप डोसा सर्दी या मानसून के मौसम में बना रहे है तो तापमान
का ध्यान रखे| बेटर को फर्मेंटेशन के लिए थोड़े अधिक तापमान की जरुरत होती है| इसलिए बेटर को ढक कर थोड़े गर्माहट वाले स्थान पर रखे|

6) 6-7 घंटे बाद आप बेटर को देखेंगे तो पाएंगे कि अब वह अच्छी तरह फर्मेंट हो चुका है| इसकी पहचान कैसे करेंगे?

अ) पहला,बेटर में छोटे-छोटे बुलबुले दिखाई देंगे|

ब) दूसरा, वह हल्का-सा खट्टा महसूस होगा|

7) अब बेटर में नमक डालेंगे| अगर ठण्ड के मौसम में डोसा बना रहे हो तो नमक फर्मेंटेशन की प्रोसेस के बाद ही डाले| क्योंकि नमक फर्मेंटेशन की प्रोसेस को धीमा कर देता है|

8) अब बेटर को फ्लोइंग बेटर बनाने के लिए थोड़ा-सा पानी मिलाएंगे क्योंकि फर्मेंटेशन के बाद बेटर थोड़ा गाढ़ा हो जाता है|

डोसा बनाने की विधि

  1. डोसा बनाने के लिए सबसे पहले लोहे का डोसा-तवा अच्छे से गर्म करे| डोसा बनाने के लिए नॉन-स्टिक तवे का भी प्रयोग कर सकते है| लेकिन डोसा बनाने के लिए लोहे का तवा ज्यादा अच्छा होता है|
  2. तवा जैसे ही गर्म हो, तुरंत उस पर पानी के छींटे दे| फिर एक कपडे के टुकड़े को तवे पर घुमा दे जिससे तवा ठंडा हो जाएगा और डोसा तवे पर चिपकेगा नहीं|
  3. पानी पोंछने के तुरंत बाद बेटर को तवे पर गोल-गोल करते हुए अंदर से बाहर की तरफ फैलाए| इस दौरान फ्लेम हाई रखे| जब डोसा ऊपर से सूखने लगे (ऊपर से बेटर गीला ना दिखे) तो फ्लेम मीडियम कर दे|
  4. उसके बाद डोसे पर थोड़ा तेल लगा दे| तेल डोसे के किनारों पर और ऊपर सभी जगह लगाए|
  5. डोसा इतना पतला होना चाहिए कि जब उसे तवे पर फैलाए और तेल लगाए तो दूसरी तरफ पलटने की जरूरत ना पड़े|
  6. क्रिस्पी और सुनहरा डोसा बनकर तैयार है|
  7. मसाला डोसा बनाने के लिए डोसे में आलू की भरावन भरी जाती है|

मसाला डोसा के लिए आलू भरावन तैयार करने की विधि

  1. कढ़ाई गर्म करे और उसमे दो चम्मच सरसों का तेल डाल दे|
  2. तेल गर्म होने पर इसमें सरसों डाल दे| जब सरसों चटकने लग जाए तो इसमें कड़ी पत्ता भी डाल दे|
  3. कड़ी पत्ता ज्यादा देर तक ना भूने| उसे हल्का भूनने के बाद उसमे कटी हरी मिर्च, कटा अदरक, और कटी हुई प्याज डाल दे|
  4. सभी सामग्री को अच्छे से मिलाते हुए हल्दी डाले और 2-3 मिनट तक पकाए|
  5. जब प्याज का पानी थोड़ा सुख जाए तब इसमें मैश किये हुए आलू मिला दे|
  6. सभी सामग्री को अच्छे से चलाते हुए लाल मिर्च पाउडर, कटा हुआ धनिया और नमक स्वादानुसार मिला दे|
  7. अब इस सामग्री को 2-3 मिनट तक भूने, मसाला डोसा भरावन तैयार है|

तैयार आलू भरावन को डोसा बनाते वक़्त सबसे बाद में भरे और स्वादिष्ट मसाला डोसा को सांभर और नारियल की चटनी के साथ सर्व करे|

डोसा बनाते समय क्या टिप्स और ट्रिक्स अपनाए?

  1. बेटर बनाते समय दाल और चावल का पेस्ट ना ज्यादा गाढ़ा हो और न ज्यादा पतला| नहीं तो आपका डोसा अच्छा नहीं बनेगा|
  2. दाल और चावल को पीसते समय यह ध्यान रखे कि ग्राइंडर गर्म ना हो|
  3. फर्मेंटेशन अच्छे से हो इसके लिए तापमान का जरूर ध्यान रखे|
  4. कुरकुरा और पतला डोसा बनाने के लिए दाल और चावल को पीसने के बाद हाथ से थोड़ी देर जरूर फेंटे|
  5. अच्छे परिणाम के लिए हाथ से फेंटे, न कि चम्मच से|
  6. बेटर में नमक फर्मेंटेशन की प्रोसेस के बाद ही मिलाए| नमक फर्मेंटेशन की प्रोसेस को धीमा कर देता है|
  7. डोसा बनाते समय तवे को पहले पानी से ग्रीस कर ले इससे डोसा नहीं चिपकेगा|
  8. तवे पर बेटर डालने वक़्त फ्लेम का जरूर ध्यान रखे|
  9. कुरकुरा डोसा बनाने के लिए बेटर डालते वक़्त फ्लेम हाई रखे और फिर मीडियम फ्लेम पर सेके|
  10. मसाला डोसा बनाते वक़्त आलू को बिल्कुल बारीक ना करे| कुछ थोड़े मोठे और कुछ बारीक रखे| इससे स्टफ़िंग भी अच्छी दिखेगी और मसाला डोसा का स्वाद भी बढ़ जाएगा|
  11. चना दाल का प्रयोग जरूर करे क्योंकि यह डोसे को सुन्दर सुनहरा रंग देती है|
  12. नया डोसा सेकने से पहले तवे को साफ़ जरूर कर ले| साथ ही साथ गीले कपडे से जरूर पोंछे अन्यथा डोसा तवे पर चिपक जाएगा|
  13. बेटर अगर ज्यादा बन गया है तो उसे फ्रिज में रख कर बाद में प्रयोग में ले सकते है| लेकिन ध्यान रखे फर्मेंटेशन के बाद ही एक्स्ट्रा बेटर फ्रिज में रखे|
  14. डोसे को सांभर और नारियल की चटनी के साथ परोसे|

डोसे के बेटर से अन्य रेसिपी

  • अनियन उत्तपम
  • बेनी डोसा/ बटर डोसा
  • करा डोसा
  • पोड़ी डोसा
  • पाव-भाजी डोसा
  • पिज्जा डोसा