X

बेसन की बर्फी / मोहनथाल रेसिपी Mohanthal Recipe in Hindi


बर्फी का नाम लेते ही मुँह में पानी आ ही जाता है क्योंकि यह सभी की पसंदीदा मिठाई होती है| अक्सर सभी लोग मिठाई बाहर से ही खरीदकर खाते है| जो हमारी सेहत के लिए बिल्कुल भी अच्छी नहीं होती है| बाहरी मिठाइयों में ज्यादातर मिलावट होती है|  इसलिए हमे घर पर बनी मिठाइयों का सेवन करना चाहिए|

अब आप सोच रहे होंगे कि भला घर पर हम ऐसी स्वादिष्ट मिठाई कैसे बना सकते है?

बिल्कुल बना सकते है क्योंकि बेसन की बर्फी घर पर बनाना बहुत ही आसान है| आज अपने लेख में हम आपको बेसन की बर्फी की रेसिपी बताएंगे|

बेसन की बर्फी को मोहनथाल भी कहते है| मोहनथाल अपने दानेदार और उम्दा स्वाद के लिए जानी जाती है| बेसन की बर्फी को घर पर बनाना बहुत ही आसान है| इसे बनाने के लिए बहुत ही कम सामग्री की आवश्यकता होती है|

मोहनथाल एक गुजराती व्यंजन है जो बहुत ही मशहूर मिठाइयों में शुमार है| साथ ही साथ खाने में बहुत ही स्वादिष्ट होती है|

मोहनथाल को श्री कृष्ण जी (मोहन) की मिठाई भी कहते है| यह श्री कृष्ण जी को भोग लगाने के लिए भी बनाई जाती है| वैसे मोहनथाल सभी त्यौहारों पर बनाई जाने वाली मिठाई है| क्योंकि इसे कम सामग्री में घर पर बहुत ही कम समय में आसानी से बना सकते है|

बेसन की बर्फी बहुत ही पौस्टिक होती है| इसे आप डिजर्ट (DESSERT) के रूप में भी परोस सकते है| बेसन की बर्फी / मोहनथाल बनाने में लगभग आधे से एक घंटे का समय लगता है| बेसन की बर्फी/ मोहनथाल रेसिपी की सभी सामग्री आपकी रसोई में आसानी से मिल जाएगी|

इस मिठाई की सबसे ख़ास बात यह है कि यह कई दिनों तक खराब नहीं होती है| इसे आप फ्रिज में कई दिनों तक स्टोर करके रख सकते है|  इसे खोया/ मावा डालकर या फिर बिना डाले भी बना सकते है| लेकिन हम आपको अपनी रेसिपी में आज बिना मावे की बेसन की बर्फी/ मोहनथाल बनाने की विधि शेयर करेंगे|

मोहनथाल बनाने के लिए आवश्यक सामग्री

  • बेसन – 2 कप
  • घी – 3/4 कप
  • दूध – 1/2 कप

चाशनी बनाने के लिए आवश्यक सामग्री

  • चीनी – 1 कप
  • पानी -1 कप
  • केसर – 2 धागे
  • इलायची – 2 चुटकी
  • जायफल – 1 चुटकी

मोयन के लिए आवश्यक सामग्री

  • दूध – 3 छोटी चम्मच (गर्म)
  • घी – 3 छोटी चम्मच

मोहनथाल गार्निश करने के लिए आवश्यक सामग्री

  • कटे बादाम – 5 से 8
  • कटे काजू – 5 से 8
  • कटे पिस्ता – 5 से 8

बेसन की बर्फी / मोहनथाल तैयार करने की विधि

  1. एक बर्तन में बेसन ले और उसे छान ले| बेसन की बर्फी /मोहनथाल बनाने के लिए थोड़ा मोटा बेसन ले, क्यूंकि बारीक बेसन एक तो चिपकेगा ज्यादा और दूसरा उसको छानने पर उसके दाने ज्यादा बारीक बनेंगे|
  2. छने हुए बेसन में मोयन लगाए| मोयन लगाने के लिए 3 चम्मच गर्म दूध में 3 चम्मच घी मिला ले| फिर उसे बेसन में मिला दे|
  3. बेसन को अच्छी तरह से मसल ले जिससे दूध और घी सारे बेसन में अच्छी तरह से मिल जाए|
  4. मोयन लगे बेसन को आटा छलनी से छाने| कुछ बेसन तो आसानी से छन जाएगा| लेकिन बाद में बचे बेसन की छोटी-छोटी गोलिया बन जाएगी| जिन्हे छानना थोड़ा-सा मुश्किल होगा| आप इन्हे छानते वक़्त दबा-दबा कर छान सकते है|
  5. अब आप देखेंगे कि आपने जो बेसन छाना है वो बेसन बहुत ही सुन्दर और दानेदार बन गया है| अगर मोयन लगा बेसन छानने वाला स्टैप आप स्किप कर देते हो तो मोहनथाल बिल्कुल भी स्वादिष्ट नहीं बनेगी| इसलिए बेसन का दानेदार बनना मोहनथाल बनाने के लिए बहुत ही जरूरी होता है|
  6. अब दानेदार बेसन को भून ले| उसके लिए कढ़ाई में घी गर्म करे और बेसन को उसमे डाल दे|
  7. अब आपको मीडियम फ्लेम पर लगातार बेसन को चलाना है| अगर आप बीच में रुके तो बेसन जल जाएगा| इसलिए लगभग 15-20 मिनट के लिए बेसन को बिना रुके भूने|
  8. जब बेसन भुन जाए तो इसमें थोड़ा-थोड़ा करके गुनगुना दूध मिलाए| इस समय दूध मिलाना बहुत जरूरी हो जाता है| क्योंकि दूध मिलाने से बर्फी में मावे का स्वाद आता है|
  9. जब दूध डाले तो दूसरे व्यक्ति की सहायता ले ले|  जिससे आपको भुने हुए बेसन में दूध मिलाने में आसानी हो क्योंकि आपको इसे लगातार चलाते हुए दूध मिलाना है|  ध्यान रखे दूध एक ही बार में ना डाले, थोड़ा-थोड़ा करके डाले|  जिससे बेसन का टेक्सचर (texture) भी अच्छा आएगा और आपको बिना मावे के भी मावे का स्वाद इस बेसन की बर्फी में मिल जाएगा|
  10. फिर इसमें चीनी की दो तार वाली चाशनी मिलाए|
चाशनी बनाने की विधि नीचे दी गई है|

चाशनी तैयार करने की विधि

  1. बेसन की बर्फी के लिए चीनी की दो तार की चाशनी बनाकर बेसन में मिलाये, उसके लिए एक पैन ले ले| उसमे चीनी और पानी मिलाए|
  2. चीनी और पानी को मीडियम फ्लेम पर 10-15 मिनट के लिए पकने दे| बीच-बीच में चलाते रहे|
  3. चाशनी में केसर, इलायची और जायफल डाल दे|
  4. चाशनी को 10-15 मिनट बाद चेक करेंगे कि उसमे कितने तार बने? उसके लिए चाशनी को दो उंगलियों के बीच में चिपकाकर देखे, तो आपको दो तार दिखाई देंगे|
  • जब चाशनी में दो तार दिखे तो उसे बेसन में अच्छी तरह से मिलाकर घोट दे और पहले से घी लगी थाली में फैला दे|
  • अब इस पर बादाम, काजू और पिश्ते की गार्निशिंग कर दे और 20 मिनट जमने के लिए फ्रिज में रखकर छोड़ दे|
  • 20 मिनट बाद बर्फी को चाक़ू की सहायता से मनचाहे आकार में काट ले|
  • बेसन की बर्फी या मोहनथाल खाने के लिए बनकर बिल्कुल तैयार है|
  • बेसन की बर्फी या मोहनथाल को लम्बे समय तक खाने के लिए स्टोर करके भी रख सकते है|

मोहनथाल बनाते समय सावधानियाँ

  • बेसन की बर्फी या मोहनथाल बनाने के लिए मोटा बेसन ले|
  • बेसन छानने के लिए बारीक छलनी न ले|क्योंकि इससे बेसन दानेदार नहीं बनेगा|
  • मोयन लगाते समय ध्यान दे जितनी आवश्यकता है उतना ही दूध और घी मिलाए| ज्यादा दूध और घी मिलाने से बेसन स्टिकी हो जायेगा और वह दानेदार नहीं बनेगा|
  • बेसन भूनते समय ध्यान रखे कि उसे मीडियम फ्लेम पर लगातार चलाते हुए भूने|
  • चाशनी बनाते समय ध्यान दे कि चाशनी दो तार की होनी चाहिए|